दिवाली पर सरकार लाई आपको मालामाल बनाने की योजना, करना है यह काम

नई दिल्ली। दिवाली पर सोना खरीदने की परंपरा के बीच सोने में निवेश के लिए अब एक और सरल-सुगम विकल्प उपलब्ध हो गया है। सरकार की गोल्ड बांड स्कीम-2018-19 अपने दूसरे चरण के तहत 5 नवंबर से निवेशकों के लिए खुल गई है। इस स्वर्ण निवेश योजना में 9 नवंबर तक निवेश किया जा सकता है। इसमें सोने के साथ आपको अपने निवेश पर ब्याज भी मिलेगा। साथ ही निवेशक को कर छूट का लाभ भी दिया जाता है। कोई भी व्यक्ति इसके तहत सोने में निवेश कर सकता है।

यहां से खरीदें गोल्ड बांड

गोल्ड बांड की बिक्री बैंकों, स्टॉक होल्डिंग कारपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (एसएचसीआइएल), मनोनीत डाकघरों तथा नेशनल स्टाक एक्सचेंज व बॉम्बे स्टाक एक्सचेंज के जरिए की जा रही है।

कैसे तय होगी सोने की कीमत

भारत बुलियन एंड जूलर्स एसोसिएशन लिमिटेड की ओर से पिछले 3 दिन 99.9 फीसदी शुद्धता वाले सोने की औसत कीमत के आधार पर इस बांड की कीमत रुपए में तय होती है। स्कीम में निवेश की रकम के सोने के साथ ही इसपर 2.5 फीसदी का सालाना ब्याज भी मिलेगा।

बाजार से जुड़ा होता है मूल्य

गोल्ड बांड सीधे तौर पर बाजार में सोने की कीमतों से जुड़े होते हैं। जैसे ही सोने की कीमतों में इजाफा होता है, वैसे ही आपका निवेश भी ऊपर जाता है। गोल्ड ईटीएफ के मुकाबले इसमें निवेश करने पर आपको कोई सालाना शुल्क नहीं देना पड़ता। गोल्ड बांड पेपर और इलेक्ट्रॉनिक फॉर्मेट में जारी किए जाते हैं। इसलिए आपको सोने को लॉकर में रखने का खर्च भी नहीं उठाना पड़ता।

क्या है निवेश की अवधि

कीमतों में तात्कालिक उतार-चढ़ाव के जोखिम से बचाने के लिए सरकार लंबी अवधि वाले गोल्ड बांड जारी कर रही है। इसमें निवेश की अवधि 8 साल है, लेकिन आप 5 साल के बाद भी अपने पैसे निकाल सकते हैं। पांच साल के बाद पैसे निकालने पर कैपिटल गेन टैक्स भी नहीं लगाया जाता है।

मिल सकता है कर्ज

जरूरत पड़ने पर गोल्ड के एवज में बैंक से कर्ज भी लिया जा सकता है। गोल्ड बांड पेपर को लोन के लिए अमानत (को-लेटरल) के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इस तरह यह पोस्ट ऑफिस की नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट की तरह होता है।

योजना के विभिन्न चरण

इस योजना की शुरुआत नवंबर 2015 में हुई थी। इस साल की श्रृंखला का पहला चरण 19 अक्टूबर को बंद हुआ था। दूसरा चरण 5 नवंबर को खुल रहा है। तीसरा चरण 24 दिसंबर को आएगा और 28 दिसंबर को बंद होगा। चौथे और पांचवें चरण क्रमश: 14 से 18 जनवरी और 4 से 8 फरवरी 2019 तक चलेंगे।

Source :

Patrika : India’s Leading Hindi News Portal

read more

Categories: AllMarketRajasthan