अब वर्ल्ड कप टीम में लगेगी सेंध, धोनी के पसंदीदा खिलाड़ी की जगह लेगा ये उभरता हुआ सितारा!

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट मैनेजमेंट वर्ल्ड कप 2019 के लिए सही संयोजन ढूंढ़ने में लगा हुआ है। भारतीय टीम लगभग सभी गुत्थियां सुलझा चुकी है। पर अभी भी सातवें नंबर पर अच्छे ऑल-राउंडर की तलाश खत्म नहीं हुई है। इस नंबर पर भारतीय टीम के पास मौजूदा वक्त में दो खिलाड़ी हैं, जोकि वर्ल्ड कप प्लेइंग XI में जगह पाने को संघर्ष करेंगे। एक तो हैं तेज गेंदबाज ऑल-राउंडर हार्दिक पंड्या और दूसरे हैं बाए हाथ के स्पिन गेंदबाज ऑल-राउंडर रवींद्र जडेजा। पर इनदोनों की बल्लेबाजी में कमजोरी के चलते इस स्थान पर किसी की भी जगह अभी पक्की नहीं मानी जा सकती। ऐसे में घरेलु क्रिकेट और अब अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में भी अच्छा प्रदर्शन करने वाला एक हरफनमौला खिलाड़ी इस स्थान के लिए एक नया विकल्प बनकर सामने आया है और वह वर्ल्ड कप की टीम में सेंधमारी कर सकता है।

क्या है भारतीय टीम की समस्या-
वर्ल्ड कप के लिए लगभग 15 खिलाड़ियों का एक पूल तैयार हो चुका है। भारत की नई समस्या उसकी निचलेक्रम की बल्लेबाजी है। वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे ODI मैच में भारत इसी कमजोरी के कारण हार गया था और एशिया कप में अफगानिस्तान के खिलाफ मैच ड्रा का भी यही कारण था। जहां इंग्लैंड जैसी टीम के पास 10 या 11 नंबर तक बल्लेबाजी की छमता है वहीं भारतीय टीम के पास नंबर 6-7 के बाद बल्लेबाजी बिलकुल खत्म हो जाती है। कठिन परिस्थितियों में जडेजा या पंड्या नंबर-7 स्थान पर खेलने के लिए उपयुक्त नहीं लगते। इन दोनों की ही बल्लेबाजी उतनी मजबूत नहीं है, साथ ही केदार जाधव की बल्लेबाजी पर भी उतना भरोसा नहीं जताया जा सकता। ऐसे में भारत को एक ऐसे ऑल-राउंडर की टीम में जरुरत आन पड़ती है जो अच्छी गेंदबाजी के साथ संभलकर बल्लेबाजी भी कर सके और अंतिम ओवरों में हिटिंग भी।

ravindra jadeja

क्या हो सकता है संयोजन-
इंग्लैंड में तेज गेंदबाजों के लिए मदद होगी। इस कारण भारत 3 प्रमुख गेंदबाजों के साथ मैदान पर उतर सकता है, जोकि विकेट दिलाने में सक्षम हों। खलील अहमद अच्छा कर रहे हैं, ऐसे में वह भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह के साथ तीसरे तेज गेंदबाज हो सकते हैं । इस परिस्थिति में हार्दिक पंड्या टीम में जगह नहीं बना पाएंगे। ऐसे में मैनेजमेंट को स्पिन ऑल-राउंडर की जरुरत होगी जो टीम को 7-8 ओवर दे सके और जरुरत पड़ने पर अच्छी बल्लेबाजी भी कर सके। यह भूमिका इस वक्त जडेजा निभा रहे हैं। साथ ही केदार जाधव भी कुछ ओवर स्पिन के निकाल सकते हैं। कुलदीप यादव का स्पिन गेंदबाज के तौर पर खेलना तय है और यजुवेंद्र चहल की जगह अब टीम में मुश्किल लग रही है। टीम बुमराह और खलील के साथ तीसरा ऐसा गेंदबाज नहीं खिलाना चाहेगी जो बल्लेबाजी नहीं कर सकता हो।

krunal pandya

यह खिलाड़ी लगा सकता है सेंध-
क्रुणाल पंड्या ने रविवार को T20 अंतर्राष्ट्रीय में अपना पदार्पण किया। उनका प्रदर्शन घरेलु क्रिकेट में अच्छा रहा है जिस कारण उन्हें भारतीय टीम में खेलने का मौका मिला है। हाल ही उन्होंने विजय हजारे ट्रॉफी के एक मुकाबले में 6 विकेट झटके थे। आईपीएल 2018 में मुंबई इंडियंस के लिए बल्ले और गेंद से क्रुणाल का प्रदर्शन शानदार रहा था। इसके बाद रविवार को उन्होंने अपने पदार्पण मैच में पहले गेंदबाजी करते हुए 4 ओवरों में 15 रन देकर 1 विकेट झटका, उसके बाद बल्लेबाजी में 9 गेंदों में नाबाद 21 रन बनाकर टीम को मुश्किल परिस्थिति से जीत दिलाई। वेस्टइंडीज सीरीज के बाद क्रुणाल को ऑस्ट्रेलिया में 3 मैचों की T20 सीरीज के लिए भी टीम में चुना गया है। ऐसे में वह इन मैचों में अपनी छाप छोड़कर और जडेजा को चुनौती दे सकते हैं। क्रुणाल की बल्लेबाजी व गेंदबाजी दोनों ही अच्छी है। जरुरत पड़ने पर वह धीमी व सधी हुई बल्लेबाज भी कर सकते हैं। वह नंबर 7 के लिए अच्छे विकल्प के तौर पर देखे जा सकते हैं।

Source :

Patrika : India’s Leading Hindi News Portal

read more

Categories: AllCricketRajasthan